phase()); */ /* halt( current_financial_year() ); */ /* $sms = new SMS( '8527272127', 'Congratulations, your Prachya Karma registration is almost complete. Use this OTP (91831) to verify your mobile number.' ); $sms->send(); */ /* $sc = new ShoppingCart(); $sc->get_by_value( 'sc_no' , '7f99a584' ); $srs = $sc->get_all_service_requests(); foreach( $srs as $sr ) { print_r($sr); } halt( $sc->get_total_price() ); */ ?> ३३ करोड़ देवी देवताओ का सत्य.. - Prachya Karma

33 करोड़ नहीं 33 कोटि देवी देवता हैँ हिंदू धर्म में ;

कोटि = प्रकार ।
देवभाषा संस्कृत में कोटि के दो अर्थ होते हैं ।

कोटि का मतलब प्रकार होता है और एक अर्थ करोड़ भी होता ।

हिंदू धर्म का दुष्प्रचार करने के लिए ये बात उड़ाई गयी की हिन्दूओं के 33 करोड़ देवी देवता हैं

कुल 33 प्रकार के देवी देवता हैँ हिंदू धर्म में जिनमे :-

12 प्रकार हैँ :-
आदित्य , धाता, मित, अर्यमा,
शक्रा, वरुण, अँशभाग, विवास्वान, पूष, सविता, तवातस्था, और विष्णु…!

8 प्रकार हैं :-
वसु:, धरध्रुव, सोम, अह, अनिल, अनल, प्रत्युष और प्रभाष।

11 प्रकार हैं :-
रुद्र ,हरबहुरुप, त्र्यम्बक,
अपराजिता, बृषाकपि, शम्भू , कपर्दी,
रेवात, मृगव्याध, शर्वा, और कपाली।
एवँ
दो प्रकार हैँ अश्विनी और कुमार ।

कुल :- 12+8+11+2=33 इस प्रकार 33 कोटि देवता हुए।

ये बातें हम सभी को जानना आवश्यक है।

 

– डॉ त्रयम्बक नाथ पाण्डेय